**New post** on See photo+ page

बिहार, भारत की कला, संस्कृति और साहित्य.......Art, Culture and Literature of Bihar, India ..... E-mail: editorbejodindia@yahoo.com / अपनी सामग्री को ब्लॉग से डाउनलोड कर सुरक्षित कर लें.

# DAILY QUOTE # -"हर भले आदमी की एक रेल होती है/ जो माँ के घर तक जाती है/ सीटी बजाती हुई / धुआँ उड़ाती हुई"/ Every good man has a rail / Which goes to his mother / Blowing wistles / Making smokes [– आलोक धन्वा, विख्यात कवि की एक पूर्ण कविता / A full poem by Alok Dhanwa, Renowned poet]

यदि कोई पोस्ट नहीं दिख रहा हो तो नीचे "Current Page" पर क्लिक कीजिए. If no post is visible then click on Current page given below. // Mistakes in the post is usually corrected in ten hours once it is loaded.

Tuesday, 15 August 2017

राजकुमार भारती का देशभक्ति गीत - अपने झण्डा को हम झुकने देंगे नहीं / सुनिये और पढ़िये ( 'Our tricolour will win'- Listen and read the patriotic Hindi song with poetic English translation)

Blog pageview last couont- 26908 (Check the latest figure on computer or web version of 4G mobile)
अपने झंडा को हम झुकने देंगे नहीं
We shall not let our flag tilt
हिंदी कविता अंग्रेजी काव्यानुवाद के साथ / Hindi Song with poetic English translaltion

Please listen to and read the beautiful patriotic Song written and sung by Rajkumar Bharti. Test of the song in Hindi and Englih is also given below with minor corrections. 
राजकुमार भारती द्वारा लिखित, संगीतबद्ध और गायी हुई यह देशभक्ति की कविता का ऑडियो सुनिये और नीचे उसका हिंदी और अंग्रेजी टेक्सट भी मामूली सुधार के साथ प्रस्तुत है. सुनिये और पढि‌ये. जय हिन्द!

https://soundcloud.com/hemant-das/aud-20170815-wa0115



अपने झंडे को हम झुकने देंगे नहीं
इस तिरंगे को हम झुकने देंगे नहीं
इसकी रक्षा को होंगे हम बलिदानी
सुनती हो हे मैया गंगा
जय तिरंगा जय तिरंगा.

लेता तिलक हूँ सब शहीदों के नाम से
रक्षा करूँगा मैया तेरी मैं जान से
झुकने न दूँगा मैं सर को तुम्हारे
चाहे गर्दन भी कट जाये हमारी
चलने दूँगा न शत्रु की मनमानी
चाहे लेना पड़े बड़ा सा पंगा
जय तिरंगा जय तिरंगा.


धरती, समुंदर और आसमाँ के आँचल तक
मंगल के आँगन और दुश्मन की गर्दन तक
कदम ऐतिहासिक है रख पाया भारत
गौरवमय क्षणों को देख पाया भारत
हर दम और हर पल हम बढ़ते रहेंगे
दुश्मन के सीने को हम दलते रहेंगे
होने देंगे न हम माँ की कोई हानि
अपनी शक्ति से देंगे दुश्मन भगा
जय तिरंगा जय तिरंगा.
......
We shall not let our flag dear tilt
We shall not  let the tricolor tilt
For it’s dignity we shall sacrifice ourselves
O mother Ganges, do you listen?
Our tricolor will win Our tricolor will win.

In the name of martyrs I get anointed
I shall save my  mother with the life she granted
I shall never let you bend your head
For this even the cost of  neck will be paid
Shall never allow the enemy’s foul ambitions
No matter what trouble does spin
Our tricolor will win Our tricolor will win.

To the earth, seas, laps of sky does it go
To the courtyard of Mars, to the neck of the foe
Historic steps  our India always takes
The pride moments our India always makes
Every time, each moment we shall make progress
We shall overrun  the chests of foes we face
We shall never let our mother be harmed
Big enemies will be expelled by our troops smidgen
Our tricolor will win, Our tricolor will win.



.........
कवि-परिचय: राजकुमार भारती अंगिका के बेजोड़ कवि हैं. उन्होंने सैकड़ों हिंदी गाने भी लिखे हैं और कई को उन्होंने लयबद्ध भी किया है. वे बहुत अच्छे गायक और रंगकर्मी भी हैं. पेशे से श्री भारती केंद्रीय सरकार की सेवा में एक आयकर अधिकारी हैं.
Introduction of the poet: Rajkumar Bharti is a matchless poet in Angika. He has written hundreds of poems in Hindi and has composed the music of many of them. He is also a very good singer and drama-artist. By profession, Sri Bharti is an Income Tax Officer employed in Central govt. service.
रचनाकार और कलाकार राजकुमार भारती का लिंक: https://www.facebook.com/profile.php?id=100006768198973&lst=100009393534904%3A100006768198973%3A1502825435

आप अपनी प्रतिक्रिया इमेल से भी भेज सकते हैं जिसके लिए इमेल आइडी है: hemantdas_2001@yahoo.com